बलरामपुर में कोवीड 19 टीकाकरण एवं संचारी रोग नियंत्रण के संबंध में मीडिया कार्यशाला का हुआ आयोजन

बलरामपुर में कोविड  टीकाकरण एवं विशेष संचारी रोग नियंत्रण के संबंध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी सभागार कक्ष में मीडिया कार्यशाला का आयोजन संपन्न*

*कोविड-19 टीकाकरण का तीसरा चरण प्रारंभ, 60 वर्ष व इससे अधिक की उम्र वाले व्यक्ति आरोग्य सेतु एप अथवा कोविन पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर या सरकारी अस्पताल पहुंचकर करा सकते हैं टीकाकरण*

*तीसरे चरण में 60 वर्ष उम्र के या उससे ज्यादा उम्र के 1 लाख 90 हजार व्यक्तियों का किया जाएगा टीकाकरण*

*विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के तहत की जायेगी टीबी रोगियों की पहचान, चलाया जाएगा विशेष सफाई अभियान*

दिनांक 5 मार्च 2021

आज कार्यालय मुख्य चिकित्सा अधिकारी बलरामपुर सभागार में कोविड-19 टीकाकरण एवं विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के संबंध में मीडिया कार्यशाला का आयोजन किया गया। मीडिया कार्यशाला में मुख्य चिकित्सा अधिकारी बलरामपुर डॉ विजय बहादुर सिंह ने बताया कि कोविड-19 टीकाकरण अभियान के तहत अब तक दो चरणों में 13106 स्वास्थ्य वर्कर एवं फ्रंट लाइन वर्कर्स को कोविड-19 का टीकाकरण किया जा चुका है। कोविड-19 टीकाकरण के तृतीय चरण में 1 मार्च से 60 वर्ष अथवा उससे अधिक आयु और 45 से 59 वर्ष के सहरुग्णता से ग्रसित व्यक्तियों का वैक्सीनेशन किया जायेगा। जनपद में 60 वर्ष अथवा इससे अधिक आयु के व्यक्तियों की संख्या 1 लाख 90 हजार है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि तीसरे चरण में जनपद में 4 प्राइवेट अस्पताल में भी कोविड-19 टीकाकरण की सुविधा प्रदान किया जाएगा। 60 साल या उससे अधिक उम्र के व्यक्ति और 45 वर्ष से 60 वर्ष की उम्र के लोग जो कि गंभीर बीमारी से ग्रसित हैं, आरोग्य सेतु एप या कोविन 2.0 पोर्टल पर पंजीकरण करवा वैक्सीन लगवा सकते हैं। 60 वर्ष या उससे अधिक उम्र के व्यक्ति जनपद में चार चिन्हित प्राइवेट हॉस्पिटल में कोविड-19 का टीका लगवा जा सकते हैं, उनको अधिकतम ₹250 का शुल्क देना होगा। 45 वर्ष से 59 वर्ष की आयु के सहरुग्णता ग्रसित व्यक्तियों को टीकाकरण हेतु चिकित्सक का सर्टिफिकेट दिखाना होगा।

विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान व दस्तक अभियान की जानकारी देते हुए नोडल अधिकारी अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ एके सिंघल ने बताया कि विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान 1 मार्च से 31 मार्च तक व दस्तक अभियान 10 मार्च से 24 मार्च तक संचालित किया जाएगा । विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान एक अंर्तविभागीय समन्वित अभियान है जिसमें स्वच्छता, स्वच्छ पेयजल, पोषण से संबंधित विभागों के द्वारा विभिन्न गतिविधियां संचालित की जाएंगी जिसका उद्देश्य जापानी इंसेफेलाइटिस व एईएस जैसी जानलेवा बीमारी पर नियंत्रण एवं रोकथाम है। संचारी रोग नियंत्रण अभियान के तहत आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्री द्वारा घर-घर जाकर दिमागी बुखार एवं संचारी रोग के प्रति संवेदीकरण एवं सर्वेक्षण का कार्य किया जाएगा तथा क्षय रोग के संभावित रोगियों की जानकारी प्राप्त की जाएगी,इस दौरान आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों द्वारा जन्म तथा मृत्यु पंजीकरण से छूटे बच्चों एवं व्यक्तियों के पंजीकरण की कार्रवाई की जाएगी।

मीडिया कार्यशाला में जिला समन्वयक यूनिसेफ शिखा श्रीवास्तव द्वारा कोविड-19 टीकाकरण व विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान मीडिया बंधुओं से समाचार पत्र व अन्य साधनों से लोगों को अभियान की जानकारी दिए जाने की अपील की गई।

इस दौरान चिकित्सा अधिकारी डॉ विजय बहादुर सिंह, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ एके सिंघल,जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ अरुण कुमार, डॉ श्याम, जिला समन्वयक यूनिसेफ शिखा श्रीवास्तव,जिला स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी अरविंद कुमार मिश्र तथा इलेक्ट्रॉनिक व प्रिंट मीडिया बंधु उपस्थित रहे। मिट्ठू शाह की रिपोर्ट

Leave a Reply

%d bloggers like this: