ऐसा कुछ न करना कि रात में सो न सको”: किम जोंग उन की बहन ने जो बाइडेन को दी चेतावनी

किम जोंग उन उत्तर कोरिया का तनाशाह शासक है

सियोल

अमेरिका दुनिया की सबसे बड़ी महाशक्ति है, लेकिन उत्तर कोरिया की तरह कुछ देश उसे लगातार आंखें दिखाते रहते हैं। नार्थ कोरिया के तानाशाह शासक किम जोंग उन (किम जोंग उन) के बाद उनकी बहन किम जोंग ने भी अमेरिका कोडिंग दी है। उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (जो बिडेन) से कहा है कि ऐसा कुछ करने की जुर्रत न करें, जिससे उनकी रातों की नींद हराम हो जाए।

अमेरिकी रक्षा मंत्री लीलो ऑस्टिन और विदेश मंत्री एंथनी ब्लिनकेन के सोमवार को जापान और दक्षिण कोरिया के दौरे के बीच ये उदय नार्थ कोरिया ने दी है। अमेरिका परमाणु हथियारों से लैस उत्तर कोरिया, चीन जैसे देशों के खिलाफ अपने सहयोगी देशों के गठबंधन को मजबूत कर रहा है। किम यो जोंग (किम यो जोंग) अपने भाई की मुख्य सलाहकार है और बाइडेन के राष्ट्रपति निर्वाचित होने के लगभग 4 महीने बाद पहली बार उत्तर कोरिया ने कोई आक्रामकता दिखाई है।

किम यो जोंग ने कहा कि शायद अमेरिका हमारे इलाके में बारूद की गंध को महसूस नहीं कर पा रहा है। हालांकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के किम जोंग उन से कूटनीतिक संबंध मजबूत करने वाले जिम करोम अंकस्त्रीकरण की राह पर लाने की कोशिश नाकाम रही और ट्रंप शासन के आखिरी दौर में दोनों देशों के बीच टकराव खतरनाक स्तर पर पहुंच गए हैं। उत्तर कोरिया पर कई तरह के वैश्विक आर्थिक प्रतिबंध लगाए गए हैं, जिससे वह हाशिये पर आ गया है।

लेकिन कोरोनावायरस के दौरान बॉर्डर पूरी तरह बंद करने से उत्तर कोरिया और अलग-थलग पड़ गया। बाइडेन के जनवरी में सत्ता संभालने के पहले किम जोंग ने अमेरिका को अपना मुख्य शत्रु करार दिया था और पनडुब्बी से लॉन्च की जाने वाले बैलेस्टिक मिसाइल का प्रदर्शन दुनिया के सामने किया था। किम यो जोंग अपने भाई की सलाहकार के साथ कोरियाई प्रायद्वीप के मामलों में प्रमुख आवाज के तौर पर होना चाहिए। पड़ोसी दक्षिण कोरिया से रिश्तों में तनाव के बाद उसने सीमा पर बने संपर्क कार्यालय को भी ध्वस्त कर दिया था

Leave a Reply

%d bloggers like this: