ग्रामीण क्षेत्रों में कर्मचारियों के जागरूक करने के बाद भी कोरोना जांच व टीकाकरण का कार्य नहीं पकड़ रहा है जोर

0
मोहम्मद अकलेन
आजमगढ़ सरकार कोरोना से बचाव के लिए गांव गांव में कैंप लगा रही है, और डॉक्टर नर्स पहुंचकर ग्रामीणों को जांच और टीकाकरण करने का कार्य कर रहे हैं । लेकिन जितनी सफलता मिलनी चाहिए उतना नहीं मिल पा रही है । कर्मचारी लाख जागरूक ग्रामीणों को कर रहे हैं लेकिन लोग कम ही जांच और टीकाकरण करा रहे हैं ।ऐसा ही मामला देखने को मिला फूलपुर ब्लाक के ग्राम पंचायत संग्रामपुर में कोरोना जांच व टीकाकरण के लिए पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत गांव के प्राथमिक विद्यालय के प्रागण में चिकित्सा अधीक्षक फूलपुर राम आशिष यादव के नेतृत्व स्वास्थ शिक्षा अधिकारी मुन्नीलाल, सावित्री, साहनाज बानो आंगनवाड़ी प्रतिरक्षण अधिकारी मुकेश में पहुचे । इस दौरान ग्राम पंचायत अधिकारी राधेश्याम यादव प्रधान, लेखपाल व सफाई कर्मी घर घर टीकाकरण व जांच कराने के लिए लोगों को प्रेरित करते रहे। लेकिन  गांव के ज्यादातर लोग टीकाकरण व जांच कराने नहीं पहुंचे । इस दौरान कैंप में गांव की कुल बत्तीस महिला पुरुष ही पहुंच सके। जहा बीस महिला पुरुष की कोरोना जांच की गई । जिसमें सभी निगेटिब निकले, वही मात्र बारह लोगो का टीकाकरण हो सका। बता दे कि टीकाकरण से एक रोज पहले गांव वालों को सूचित किया जाता है कि आकर गांव के अंदर लगे कैंप में जांच और टीकाकरण करा लें लेकिन इतनी जागरुकता के बावजूद लोग जांच कराने में कम रुचि नहीं ले रहे हैं ।
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा।