अतरौलिया में पर्यावरण सुरक्षित रखने का लोगों ने लिया संकल्प, दिलाई गई शपथ 

0
राजेश सिंह
आजमगढ़ । ग्रामीण पुनर्निर्माण संस्थान द्वारा यूरोपियन यूनियन, बार्नफानडन एवं चाइल्ड फण्ड इंडिया के सहयोग से अतरौलिया स्थित कृष्णा मैरेज हाल के प्रांगण में विश्व पर्यावरण दिवस के उपलक्ष में एक सेमिनार का आयोजन किया गया । कार्यक्रम में बोलते हुए साहित्यकार राजेन्द्र त्रिपाठी ने कहा कि पर्यावरण को सुरक्षित रख कर ही हम अपने जीवन को सुखी रख सकते है, आज हमारे आस पास की हवा और पानी खराब हो रहा है, जिससे तरह तरह की बीमारियों से परेशान लोग देखने को मिल रहे है, साहित्यकार डॉ0 राजा राम सिंह ने कहा कि गंगा का पानी अमृत था, लेकिन आज लोग उसमें नहाते है न उसके पानी को पीते है, इसलिए कि हमने उसे गन्दा करने का काम किया है ।हमे अपने को सुधारना होगा, सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता सर्वेश मिश्र ने कहा कि लोगों की लालच ने अंधाधुंध विकास की होड़ ने धरती के संतुलन को बिगाड़ दिया है ।आज हमारे क्षेत्र में सड़कों का निर्माण हो रहा है, लेकिन इस दौरान ठीकेदारों को किन नियम कानूनों का पालन करना चाहिए या तो वे जानते नही यदि जानते भी है तो मानते नही। जिला महिला कल्याण अधिकारी प्रीति उपाध्याय ने बताया कि महिलाओं को ग्रामीण पुनर्निर्माण संस्थान द्वारा जिस प्रकार जागरूक किया जा रहा है, वह अन्य क्षेत्रों के साथ पर्यावरण के क्षेत्र में एक अनुकरणीय पहल है। बाल कल्याण समन्वयक अनु सिंह ने महिलाओं के साथ साथ पुरुषों को भी संवेदित करने की अपील की। चाइल्ड फण्ड इंडिया के प्रशांत जी ने कहा कि घर में महिला और बाहर पर्यावरण दोनों ही बहुत सहन शील होते है, दोनों ही परिवार और धरती के विकास के लिए अप्रतिम योगदान करते है । लेकिन जब हम इनका आदर सम्मान नही करते तो बाहर तूफान, बाढ़, आदि दैविक आपदा और घर मे अशांति होती है। स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी जितेंद्र कुमार ने स्वास्थ्य के लिए पर्यावरण के महत्व को रेखांकित किया। ग्रामीण पुनर्निर्माण संस्थान द्वारा संचालित पूर्वी उत्तर प्रदेश में महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने की दिशा में नागरिक समाज संगठनों का सुदृधिकरन परियोजना के अंतर्गत प्रयोग किये जाने वाले प्रशिक्षण मॉड्यूल जलवायु परिवर्तन औऱ संक्षिप्त स्मार्ट कृषि का विमोचन भी अतिथियों द्वारा किया गया।कार्यक्रम के अंत मे उपस्थित सभी प्रतिभागियों को एक एक पौधा दिया गया, तथा अनु सिंह के द्वारा कहा गया कि सभी को अपने घरों में जन्मदिन विवाह वर्ष गांठ के अवसर पर पेड़ लगाना चाहिए। संस्थान के द्वारा इस मौके पर परियोजना क्षेत्र के 20 गांव में 5001 पौध रोपण किया जाएगा। । कार्यक्रम का संचालन संस्थान के सचिव राजदेव चतुर्वेदी ने किया । मौके पर अनिल कुमार, ज्योति, अम्बुज, वंदना, सुप्रिया, दिनेश जान्हवी दत्त, फूला अंजलि शशि प्रभा आदि ने सक्रिय भूमिका निभाया।
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा।