कार्यभार संभालते ही , कहा सभी को सुरक्षा का एहसास कराना ही पहली प्राथमिकता- नवनियु‍क्त डीजीपी मुकुल गोयल

0

यूपी/लखनऊ। नवनियुक्त पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) मुकुल गोयल ने शुक्रवार को प्रदेश के पुलिस विभाग के मुखिया का कार्यभार संभाल लिया है। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था को और सुदृढ़ बनाना ही प्राथमिकता है। सभी को सुरक्षा का एहसास दिलाना ही पुलिस की प्राथमिकता है। अपराध नियंत्रण जनता की मदद के बिना संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि पुलिस को और संवेदनशील बनकर जनता के पास जाना होगा। डीजीपी मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत में मुकुल गोयल ने कहा कि पांच वर्षों के बाद लखनऊ आया हूं। नए डीजीपी ने कहा कि कई बार छोटे छोटे अपराधों की अनदेखी बड़ी घटनाओं को जन्म देती है। पुलिसकर्मियों को अधिक संवेदनशील होकर हर छोटी घटना में करवाई का संदेश भी दिया। मैं चाहूंगा कि अधिकारी फील्ड में जाएं और थाना स्तर पर पीड़ितों की सुनवाई और कार्रवाई की समीक्षा करें। डीजीपी मुकुल गोयल ने कहा कि कानून व्यवस्था को बनाए रखना चुनौती है। उन्होंने पुलिसिंग में तकनीकी के और अधिक समावेश पर विशेष जोर देने की बात भी कही। बहुचर्चित बिकरू कांड पर मुकुल गोयल बोले कि कुछ छोटी गलतियों की वजह से इतनी बड़ी घटना हुई थी। कई वर्षों से अपराधियों और कुछ पुलिसकर्मियों के बीच गठजोड़ बना था, जिसे ठीक ढंग से देखा नहीं गया। इससे पहले शुक्रवार सुबह नवनियुक्त डीजीपी मुकुल गोयल नई दिल्ली से लखनऊ के चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंचे। वह एयरपोर्ट से सीधे हनुमान सेतु मंदिर पहुंचे। वहां पर दर्शन-पूजन के बाद वह लोक भवन में गए। वहां उन्होंने सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ करीब आधा घंटा तक भेंट की। इसके बाद वह सिग्लेचर बिल्डिंग के लिए रवाना हो गए। 30 जून को सेवानिवृत होने के बाद हितेश चंद्र अवस्थी ने डीजीपी का कार्यभार एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार को सौंपा था।

उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा।