झारखंड पलामू के युवाओं में है काफी प्रतिभा बस ज़रूरत है उन्हें निखारने की

पलामू के युवाओं में है काफी प्रतिभा बस आवश्यकता है,तो उन्हे निखारने की-:पवन कुमार(नेहरू यूवा केन्द्र जिला यूवा अधिकारी)
आज मैं बात करूंगा ऐसे व्यक्ति के बारे में जिन्होंने पलामू जिले में युवाओं हेतु बढ़-चढ़कर कार्य किया,हां मै बात कर रहा हूं,नेहरू युवा केंद्र जिला यूवा केन्द्र पवन कुमार का जिन्होंने पलामू जैसे स्थान में युवाओं हेतु सराहनीय एवं अतुलनीय कार्य किया है,इनके प्रयास से जल संरक्षण,जल संचयन,बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ खेल कूद पड़ोस युवा संसद आदि अनेको अनेक प्रकार के कार्य किए गए हैं,कोरोना जैसी भयावह महामारी में लगातार 62 दिनों तक स्वयंसेवकों के साथ मिलकर के निशक्त एवं मजदूरों को खाना खिलाने का कार्य किया गया,इन्हीं की अध्यक्षता में पलामू जिले में पहली दफा एन0आई0सी कैंप का आयोजन किया गया, जिसमें पूरे भारत से कुल 450 युवा स्वयंसेवकों ने भाग लिया एवं प्रशिक्षण प्राप्त किया, साथ ही एक भारत श्रेष्ठ भारत के अंतर्गत देश के विभिन्न राज्यों में 15 दिवसीय आदान प्रदान कार्यक्रम में लामू के कई युवा साथियों ने अंतर-राजीये युवा आदान प्रदान कार्यक्रम हो साथ ही कला और सांस्कृतिक मंत्रालय गोआ द्वारा 150 राष्ट्रीय कलाकार ने भी इस कार्यक्रम का सिरक्कत कर पलामू जिले का नाम रौशन किया,इस नियमित पलामू जिले में लगभग 7 दिनों तक चले इस प्रशिक्षण शिविर में राष्ट्रीय स्तर के वरिष्ठ पदाधिकारी गण भी उपस्थित हुए, इनके मार्गदर्शन में नेहरू युवा केंद्र के 42 स्वयंसेवकों ने समाज के हर क्षेत्र में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया एवं समाज को नई दिशा प्रदान करने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई,नेहरू युवा केंद्र जिला यूवा अधिकारी पवन कुमार बताते हैं कि यहां के युवाओं में वह बल है,वह क्षमता है जिससे वह समाज को नई दिशा प्रदान करने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं,बस आवश्यकता है तो इनमें छिपी प्रतिभा को निखारने का,आज पलामू जैसे क्षेत्रों में 42 युवा स्वयंसेवकों के साथ मिलकर इन्होंने पलामू जिले के प्रत्येक प्रखंड में भारत सरकार के द्वारा चलाए गए प्रत्येक योजनाओं को जन जन तक पहुंचाने का कार्य किया है, एवं अनेकों अनेक प्रकार की जागरूकता अभियान भी चलाने का कार्य किया है,इनका एक ही प्रयास है पलामू के युवाओं में छिपे प्रतिभा को निखारना एवं उन्हें एक अच्छा प्लेटफार्म देना जिससे वह अपने जीवन में प्रगति कर सकें एवं अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सके, साथ ही पलामू जिला यूवा अधिकारी पवन कुमार के मार्गदर्शन में पहली बार राष्ट्रीय युवा संसद में पलामू से दो युवा स्वयंसेवको को मौका मिला,और चाहे फिर बात हो अति नक्सल क्षेत्र में अति पिछड़ा क्षेत्र में जा कर युवाओँ के बीच अलख जगाना हो चाहे फिर हम बात करें सूरत,गोआ,चेन्नई,पुणे में भी हुए एन०ए०सी कैम्प का उनके मार्गदर्शन में सभी युवाओं को सीखने का अवसर प्रदान हुआ चाहे फिर हम बात करे crpf के साथ मिलकर ट्राइबल युथ फेस्टिवल के जिन्होंने उन्हें बखूबी निभाया और साथ ही ट्राइबल युवाओं को सामाजिक गतिविधियों का गुर सिखाया साथ ही पलामू जिला युवा अधिकारी पवन कुमार के द्वारा हर क्षेत्र मे किया गया कार्य अतुलनीय है,चाहे फिर कोविड जैसे महामारी में पलामू प्रशासन के साथ मील्स ऑन व्हील्स कार्यक्रम तहत घर घर जाकर सभी जरूरत मंद को गर्म भोजन का व्यस्था करवाना हो या फिर कोरोना जैसे महामारी में अच्छे कार्य के लिए माननीये भारत सरकार केंद्रीय मंत्री श्री किरण रिजीजू जी ने ही कोरोना पे बात करने के लिए पलामू जिला को ही चुना आपके नित्य निरंतर प्रयास से पलामू के युवा समाज को नई दिशा देने का कार्य करेगी ऐसी अपेक्षा है,अभिनंदन

Leave a Reply

%d bloggers like this: