लखनऊ चांदनी शाह बानो राष्ट्रीय शाह समाज फाउंडेशन इंडिया ट्रस्ट ने शाह समाज से की अपील Covid काल में मानव जाति को बचाना ही सच्चा धर्म है

लखनऊ;प्रातःरविवार को चांदनी शाह बानो रास्ट्रीय अध्यक्ष-रास्ट्रीय शाह समाज फाउंडेशन इंडिया ट्रस्ट ने भारतीय शाह समाज से अपील करते हुए तथा देश वाशियो को सन्देश देते हुए कहा कि कोरोना काल में मानव जाति को बचाना ही सच्चा धर्म इबादत हैं! रमज़ान के पवित्र माह में घर पर इबादत करने उपरांत पड़ोसियों की हर सम्भव मदद करें!
जिससे अल्लाह खुश होगा साथ-साथ सर्व-समाज उत्थान में आप की छवि व कर्म राष्ट्र निर्माण में सहायक होगा!
आज हर कोई समाज-उत्थान की बातें करता है किन्तु सामाजिक विकास के लिए संस्थानों के मुख्य उद्देश्यों को कोई नही समझना चाहता
जबकि यथार्थ में शायद ही किसी संस्थान के उद्देश्यों में ये शामिल होते हैं।
आज समाज में पिछड़ापन, अन्धविश्वास, अशिक्षा, गरीबी, अधिकारों का हनन, शोषण, कुरीतियाँ, कट्टरता दिखावा आदि बुराइयों का बोलबाला है। ये सभी समाज-विकास में बाधक हैं। इन बुराइयों के प्रसार में समाज का उच्च शिक्षित एवं सम्पन्न वर्ग का बहुत बड़ा योगदान है बल्कि यह कहा जाए कि इन में से अधिकांश के सूत्रधार वे ही हैं तो शायद गलत नहीं होगा।
आर्थिक रूप से सम्पन्न वर्ग तो कार्य को आसानी से निष्पादित कर लेते हैं या करवा लेते हैं, समस्या आती है मध्यम एवं आर्थिक दृष्टि से कमजोर वर्ग के लिए। उनका ‘जीना हराम’ हो जाता है, करे तो मरे~ न करे तो मरे। सबसे बड़ी समस्या आती है मध्यम वर्ग के सामने।
अतः समाज के विकास के लिए शिक्षित एवं सम्पन्न वर्ग को आगे आना होगा। अधिकारों के प्रति जागरूकता लाने, समाज को सही दिशा देने आदि कार्यों के लिए इन वर्गों को अपने कर्तव्यों का निर्वाहन करना होगा। शिक्षा का प्रचार-प्रसार करना होगा। सामाजिक बुराइयों से मुक्त कर समाज के सामने एक आदर्श समाज प्रस्तुत करना होगा।
क्योंकि जब तक सामाजिक बुराइयों का निर्मूलन नहीं होगा, दिखावा-प्रदर्शन पर रोक नहीं लगेगी, सामाजिक शोषण बंद नहीं होगा तब तक समाज का पिछड़ापन दूर नहीं होगा, समाज के सर्वांगीण विकास का सपना एक सपना ही बना रहेगा।
इसलिए समाजोत्थान के लिए मानदंड निर्धारित किए जाने जरूरी हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: