यूपी बलरामपुर एसएससी ग्रुप के एमडी दानवीर धीरेन्द्र प्रताप सिंह धीरू ने अपने पैसे से जिले को मंगा कर दिया 40 ऑक्सिजन सिलेंडर

एसएससी ग्रुप के एमडी धीरेन्द्र प्रताप सिंह ‘धीरू’ ने अपने व्यय पर रिफिल कराया 40 आक्सीजन सिलेंडर।

बलरामपुर । देश अचानक से कोविड 19 महामारी की दूसरी लहर के चपेट में आ गया है इस दौरान कोविड 19 के नये लक्षण प्रकट हो रहे है जिसमें फेफड़ों का संक्रमित होना प्रमुख है कोरोना संक्रमित मरीजों को जब तक इसका आभास होता है तब तक उनका आक्सीजन लेवल कम हो जाता है और उनके इलाज के लिए आक्सीजन की जरूरत पड़ रही है । डी.पी.सिंह बैस ने बताया कि जनपद में आक्सीजन की कोई फैक्ट्री नहीं है भविष्य में इसकी आवश्यकता को महसूस कर एस एस सी ग्रुप के एमडी धीरेन्द्र प्रताप सिंह ‘धीरू’ ने जिलाधिकारी को पत्र लिखकर आक्सीजन फैक्ट्री लगाने की अनुमति मांगी थी जिलाधिकारी का मौखिक आदेश प्राप्त हो गया है फैक्ट्री लगने में और संचालन होने में कई महीने लगेंगे इसको दृष्टिगत रखते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी को खाली पड़े आक्सीजन सिलेंडर को अपने व्यय पर रिफिल कराने को लेकर पत्र लिखा गया जिस पर सीएमओ ने 30 अप्रैल को सहर्ष अनुमति प्रदान करते हुए 8 जम्बू सिलेंडर व 32 बी टाइप सिलेंडर कुल 40 आक्सीजन सिलेंडर रिफिल कराने के लिए उपलब्ध कराया ।
एसएससी ग्रुप आफ कम्पनीज के एमडी धीरेन्द्र प्रताप सिंह धीरू द्वारा 40 आक्सीजन सिलेंडर को रिफिल करवाकर कम्पनी के सदस्य शुभेंद्र मिश्रा व गौरव मिश्रा के माध्यम से चीफ फार्मासिस्ट के. के.मालवीय को उपलब्ध कराया जो कोरोना के कारण आक्सीजन की कमी से जूझ रहे जरूरतमंदों को उपलब्ध कराया जायेगा । एसएससी ग्रुप के एमडी धीरेन्द्र प्रताप सिंह ‘धीरू’ ने अस्पताल से व लोगों से खाली पड़े आक्सीजन सिलेंडर को उन्हें उपलब्ध कराने को कहा है जिससे उन सिलेंडर को रिफिल कराकर जरूरतमंदों तक पहुँचाया जा सके । बताते चले कि पिछले साल भी कोरोना महामारी के दौरान एसएससी ग्रुप के एमडी धीरेन्द्र प्रताप सिंह ‘धीरू’ द्वारा लाखो प्रवासियों मजदूरो को बहदुरापुर बाडर पर व बलरामपुर में लगातार 45 दिन तक 500/600 जरूरतमंदों को लंच पैकेट,भोजन मास्क सेनीटाइजर,राशन किट आदि राहत सामग्री को उपलब्ध कराया गया था साथ ही समय समय पर उनके द्वारा जरूरतमंदों की मदद की जा रही है । जनपदवासियों ने उनके इस सराहनीय कदम की भूरि-भूरि प्रसंसा की है ।

Leave a Reply

%d bloggers like this: