शाह फकीर समाज पढ़े गा तभी बढ़े गा पहले शैक्षिकता पर ध्यान दें साई फ़कीर समाज चौधरी अफ़ज़ल नदीम राष्ट्रिय अध्यक्ष शाह समाज

*राजनैतिक जागरूकता से पहले शैक्षणिक जागरूकता पर बात क्यों नहीं..?*

*शाह(फ़क़ीर)समाज*
पढ़ेगा तो बढ़ेगा, फिर सियासी हिस्सेदारी भी लेगा, एक दिन….!

शाह समाज के कल्याण और विकास के नाम पर चलने वाली तंजीमों ने समाज का कितना विकास और कल्याण कर दिया यह जग जाहिर और किसी से छुपा नही है।
पिछले दो चार दिनों से शाह(फ़क़ीर) बिरादरी की राजनैतिक स्थिति(सियासी हालात) पर चिंता ज़ाहिर की जा रही है, ख़ास कर उत्तर प्रदेश में इसके लिए बजाप्ता सोशल मीडिया के माध्यम से रिपोर्ट पेश की जा रही है, अब उसे रिपोर्ट कहा जाए या छोटी सी पर्ची यह देखने वाले और सियासत का इल्म रखने वाले ही बता सकते हैं।

इतने बड़े उत्तर प्रदेश पर जारी रिपोर्ट में शाह समाज के सिर्फ 5 लोगों का ज़िक्र किया गया, जो पूर्व में चुनाव लड़े हैं।
*भाईयों, पिछले माह सम्पन्न हुए ग्राम पंचायत चुनाव में ली गई हिस्सेदारी को आप राजनैतिक जागरूकता नहीं मानते हैं..क्या..?*

दरअसल शाह समाज का कोई तथाकथित लीडर कहीं गया ही नहीं, किसी भी शाह समाज के प्रत्याशी को किसी तंज़ीम के मुखिया या तंज़ीम की तरफ से कोई सपोर्ट नहीं मिला, और ना ही किसी तंज़ीम के पास कोई डाटा मौजूद है कि राज्य भर में शाह समाज के कितने लोग, कहाँ कहाँ से लड़े, कितने जीते…?
*अब यह आप को सोचना है कि यह कौन सी राजनैतिक हिस्सेदारी और राजनैतिक जागरूकता की बात कर रहे हैं..?*
ऐसा लगता है इन सबकी निगाह में तो बस आगामी विधानसभा चुनाव है जहाँ इनको खुद को जागरूक करना और कराना है, शायद।
*और हाँ एक बात और क्या कभी इनलोगों ने शिक्षा(तालीम) पर कोई रिपोर्ट बना कर सुनाई है क्या…जिसमे शिक्षा के क्षेत्र में समाज के पिछड़ेपन की सच्चाई छुपी हो…? और उस पर चिंता की गई हो..!*

Your Leader
*Choudhary Afzal Nadeem*
National President
*राष्ट्रीय शाह समाज*
Shah Shamaj Educational welfare and Foundations
#7428562019

Leave a Reply

%d bloggers like this: