बलरामपुर में भाजपा ने 1975 में लगाए गए कांग्रेस के आपातकाल के विरुद्ध प्रदर्शन करने वाले लोकतंत्र सेनानियों को किया सम्मानित

Prev 1 of 1 Next
Prev 1 of 1 Next
भाजपा ने 1975 में लगाये गये कांग्रेस के आपातकाल के विरुद्ध प्रदर्शन कर लोकतंत्र सेनानियों को सम्मानित किया

भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंह ने पार्टी कार्यालय अटल भवन में लोकतंत्र सेनानियों को सम्मानित किया

बलरामपुर । 25 जून 1975 को कांग्रेस द्वारा लगाये गये आपातकाल के विरोध में भारतीय जनता पार्टी बलरामपुर द्वारा विरोध प्रदर्शन करते हुए उस दौरान जेल में बंद किये गये लोगों व उनके परिवार के सदस्यों को अंगवस्त्र प्रदान कर सम्मानित किया । भाजपा कार्यालय अटल भवन व उतरौला भाजपा कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंह, उतरौला विधायक राम प्रताप वर्मा, कार्यक्रम संयोजक जिला उपाध्यक्ष रमेश जायसवाल, जिला महामंत्री वरूण सिंह, मीडिया प्रभारी डी. पी. सिंह बैस, वरिष्ठ भाजपा नेता संजय शर्मा, नगर अध्यक्ष कृष्ण गोपाल गुप्ता, सह मीडिया प्रभारी संदीप उपाध्याय, जिला कार्यसमिति सदस्य अंशुमान शुक्ला आदि पार्टी पदाधिकारियों ने लोकतंत्र सेनानियों व उनके परिवार के सदस्यों का माल्यार्पण कर सम्मान किया । आयोजित कार्यक्रम के दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंह ने कहा कि “1975 में कांग्रेस द्वारा लगाया आपातकाल एक परिवार के विरोध में उठने वाले स्वरों को कुचलने के लिए थोपा गया जो भारत के इतिहास का एक काला अध्याय है। उस दौरान कांग्रेस के इस क्रूर रवैये के विरूद्ध आवाज उठाने वाले सभी लोगों को मेरा नमन् ” प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में धारा 370 हटाकर आज कश्मीर में एक देश एक संविधान लागू किया गया आपातकाल के दौरान कश्मीर में 6 वर्ष का कार्यकाल शुरू किया गया था । वही वरिष्ठ भाजपा नेता संजय शर्मा ने आपातकाल पर चर्चा करते हुए कहा कि आज ही के दिन 25 जून 1975 को तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने अपनी पारिवारिक सत्ता को बचाने के लिए आपातकाल लगाकर लोकतंत्र की मान मर्यादा को तार-तार कर दिया था नागरिकों के मौलिक अधिकार छीन लिये गये थे व प्रेस पर सेंसरशिप लगा दिया गया था । उस दौरान के लोकतंत्र सेनानियों ने कहा कि इंदिरा गांधी के द्वारा लगाये गये आपातकाल को याद कर मन में पीड़ा होती है राधेश्याम साहू ने कहा कि 21 महीने के आपातकाल में असंख्य लोगों को जेल में बंद कर दिया गया था संघ व भाजपा के कार्यकर्ताओं को ढूंढ-ढूंढ कर बंद किया जा रहा था लोग अपना हुलिया बदल कर घर छोड़ दिये थे । ओम प्रकाश त्रिपाठी ने कहा कि आज सभी को आपातकाल के इतिहास से सीख लेने की जरूरत है हम सभी को अपने यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आज डट कर खड़े रहने की आवश्यकता है । कार्यक्रम का संचालन कर रहे जिला महामंत्री वरूण सिंह ‘मोनू’ ने कहा कि 21 महीनों तक कांग्रेस के निर्दयी शासन की क्रूर यातनाएं सहते हुए देश के संविधान व लोकतंत्र की रक्षा के लिए निरंतर संघर्ष करने वाले सभी देशवासियों के त्याग व बलिदान को मेरा नमन। तहलका न्यूज़ के लिए मिट्ठू शाह की रिपोर्ट

Leave a Reply

%d bloggers like this: