यूपी बिजनौर जिले के धामपुर नगर में शिवसेना के मंडल प्रमुख आरके आर्य ने राशन डीलर पर लगाया गंभीर आरोप

मुनीश उपाध्याय रिपोर्टर तहलका न्यूज़ धामपुर बिजनौर

यूपी बिजनौर के धामपुर नगर में शिवसेना के मंडल प्रमुख ने आपूर्ति विभाग व राशन डीलर पर आपस में सांठगांठ का लगाया आरोप बिजनौर:- जनपद बिजनौर के धामपुर नगर में आज शिवसेना के मंडल प्रमुख मुरादाबाद एड एडवोकेट आरके आर्य ने तहसील धामपुर के राशन डीलरो पर आपुर्ती विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत से राशनकार्ड धारक नागरिकों को चार किलो प्रति यूनिट के हिसाब से राशन वितरण करने ,निःशुल्क मिलने वाले राशन पर किमत वसूली करने,अन्त्योदय राशनकार्ड धारक उपभोक्ताओं को माह अप्रैल,मयी,जून में वितरण किये जाने वाला मिट्टी का तेल तथा चीनी आदि का वितरण न करने सारा सामान ब्लैक कर देने, का आरोप लगाते हुए एक ज्ञापन माननीय मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार लखनऊ के नाम आज उप जिलाधिकारी धामपुर धीरेंद्र सिंह को सौंपा गया। इस अवसर पर आरके आर्य के साथ सैकड़ों महिलाओं ने भाग लिया। आपको बता दें कि तहलका न्यूज़ चैनल के संवाददाता ने समस्त जनपद बिजनौर की तहसीलों का दौरा कर राशन वितरण प्रणाली के तहत उपभोक्ताओं को मिलने वाला राशन की पड़ताल कर चुकी है। धामपुर तहसील ही नहीं बल्कि जनपद बिजनौर की धामपुर तहसील ,नगीना तहसील, नजीबाबाद तहसील ,चांदपुर तहसील , तथा बिजनौर तहसील तहसीलों में नगरों कस्बों तथा गांव के राशन डीलरों द्वारा खुलेआम राशन की कालाबाजारी के संबन्ध‌ में तहलका न्यूज़ चैनल के माध्यम से प्रदेश सरकार तथा जनपद बिजनौर के प्रशासनिक अधिकारियों तक खबर को पहुंचाया जा चुका है। तथा स्वयं पूर्ति विभाग के उच्च अधिकारियों से फोन पर बात करने का प्रयास किया गया । परंतु जिला पूर्ति अधिकारी बिजनौर द्वारा इस संबंध में कोई स्पष्ट जवाब नहीं दिया गया । बस इतना कहा गया की शिकायत मिलने पर कार्यवाही की जाएगी जबकि नियमानुसार डीएसओ बिजनौर को शिकायत का इंतजार ही नहीं करना चाहिए यह उनके स्वयं की जिम्मेदारी है कि उनके जनपद में राशन के वितरण शासन के आदेश अनुसार पूर्ण रूप से हो। तथा शासन द्वारा दिए गए दिशानिर्देशों का पूर्ण रुप से पालन किया जाना डीएसओ बिजनौर महोदय का विधिक दायित्व है ।परंतु उनके द्वारा केवल मात्र शिकायत मिलने पर कार्यवाही के जाने की बात कहना समझ से परे है। साथ ही डीएसओ बिजनौर की लापरवाही का जीता जागता उदाहरण है जिससे आम जनता के अधिकारों का खुला हनन हो रहा है ।इससे यह स्पष्ट होता है ।कि राशन डीलरों द्वारा की गई कालाबाजारी में स्थानीय विभागीय अधिकारियों के साथ-साथ जिला स्तर के अधिकारी भी इस घोटाले में शामिल हैं । कुछ राशन डीलरों द्वारा दबी जुबान में तहलका न्यूज़ चैनल के संवाददाता को बताया गया है कि राशन का सामान गोदाम से उठाते वक्त तथा माल उठाने का चालान कटवाने के लिए आपूर्ति विभाग के कार्यालयों में ₹70 प्रति क्विंटल की दर से राशन डीलरों से अवैध वसूली की जाती है । इतना ही नहीं जनपद के पूर्ति निरीक्षको द्वारा राशन डीलरों से प्रतिमाह ₹1000 से लेकर 15 सो रुपए वसूले जाते हैं । राशन डीलरों द्वारा यह भी बताया गया है कि हमारे द्वारा कोई राशन की कालाबाजारी स्वेच्छा से नहीं की जाती है। बल्कि विभागीय अधिकारियों की लालसा को पूरा करने के लिए मजबूरीवश उपभोक्ताओं को कम राशन दिया जाता है । साहब राशन की कालाबाजारी करने के लिए विभाग द्वारा हमें मजबूर किया जाता है ।और चोर हम कहलाये जाते हैं। अब देखना यह है की क्या प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय आदित्यनाथ योगी जी जनपद बिजनौर की इस कालाबाजारी को रोक पाएंगे अथवा उपभोक्ताओं के अधिकारों का इसी प्रकार हनन होता रहेगा। बाइट :- एडवोकेट आर के आर्य‌ शिव सेना मण्डल प्रमुख मुरादाबाद । तहलका न्यूज़ के लिए बिजनौर से मुनीश उपाध्याय की रिपोर्ट।

Leave a Reply

%d bloggers like this: