उन्नाव जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार ने विकास भवन सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति के बैठक कर स्वास्थ्य से संबंधित सभी योजनाओं की समीक्षा की

यूपी उन्नाव ।जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने विकास भवन सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत संचालित कार्यक्रमों- जनपद रैंकिंग, आरसीएच पोर्टल पर गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों के पंजीकरण, जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत प्रसव प्रगति, लाभार्थी व आशा भुगतान, क्वालिटी एश्योरेंस कार्यक्रम के अंतर्गत चिकित्सालय में मानक के अनुरूप गुणवत्ता सूचकांक, परिवार कल्याण कार्यक्रम, नियमित टीकाकरण, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना, आयुष्मान भारत, शहरी स्वास्थ्य कार्यक्रम, हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर, कन्या सुमंगला योजना तथा वित्तीय प्रगति की समीक्षा किया।
समीक्षा के दौरान खराब प्रगति पाए जाने पर मियागंज, फतेहपुर 84, सुमेरपुर,गंज मुरादाबाद के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को चेतावनी पत्र जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मुख्य चिकित्सा अधिकारी अपने स्तर से समस्त कार्यक्रमों की साप्ताहिक समीक्षा करें तथा प्रगति बढ़ाने हेतु कार्रवाई करें।
संक्रामक रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत कड़े निर्देश दिए कि सभी प्रभारी चिकित्सा अधिकारी अपने क्षेत्र के उप जिला अधिकारी, नगर पालिका एवं टाउन एरिया के अधिशासी अधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी से संपर्क कर नाला एवं नालियों की सफाई, एंटी लारवा छिड़काव,फागिंग आदि नियमित रूप से कार्य कराएं। जहां पर भी संक्रामक रोग की सूचना मिले तत्काल वहां टीम भेजकर निरोधात्मक कार्रवाई की जाए। इसमें किसी प्रकार की शिथिलता पाए जाने पर संबंधित अधिकारी के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने कोविड 19 वैक्सीनेशन के लिए निर्देश दिए सभी प्रभारी चिकित्सा अधिकारी अपने ब्लॉक क्षेत्र में टीका करण सत्र की प्लानिंग कर ज्यादा से ज्यादा लोगों का टीकाकरण सुनिश्चित कराएं। सेकंड डोज के लाभार्थियों के लिए विशेष अभियान चलाकर आच्छादित किया जाए। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी, सभी नोडल अधिकारियों तथा प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देशित किया कि जनपद में स्थापित ऑक्सीजन प्लांट एवं पीकू वार्ड =जिला चिकित्सालय,100 बेड मौरावां चिकित्सालय, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बांगरमऊ, बिछिया, औरास में ऑक्सीजन प्लांट चलवा कर वार्ड तक ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने तथा आवश्यक दवाएं, उपकरण, ऑक्सीजन सिलेंडर,ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की क्रियाशीलता सुनिश्चित कराएं ।यदि कहीं से किसी प्रकार की दिक्कत आ रही है तो तुरंत ठीक करवा लें। उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन प्लांट व पीकू वार्ड की क्रियाशीलता के संबंध में यदि कोई कमी पाई जाती है तो संबंधित अधिकारी की जिम्मेदारी तय करते हुए शासन को अवगत करा दिया जाएगा। उन्होंने अन्य सामुदायिक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देशित किया की सामुदायिक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर आइसोलेशन वार्ड, उपकरण, दवा, ऑक्सीजन सिलेंडर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की व्यवस्था सुनिश्चित करें।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के स्पष्ट निर्देश है कि कोविड से संबंधित जो सामान प्राप्त हुए हैं उनका स्टॉक रजिस्टर में अंकन करा कर उपकरणों पर कहां से प्राप्त हुआ है, स्पष्ट रूप से लिखवाया जाए। तहलका न्यूज ब्यूरो प्रमुख प्रमोद सिंह की रिपोर्ट, TAHALKANEWS OFFICE CON NO 9198041777

Leave a Reply

%d bloggers like this: