महिला आयोग सदस्या श्री मती सुनीता बंसल ने संयुक्त चिकत्सालय बलरामपुर का किया औचक निरीक्षण ओपीडी में डॉक्टरों के गैर मौजूदगी देख जताई नाराज़गी

माननीय सदस्या महिला आयोग ने किया संयुक्त जिला चिकित्सालय का औचक निरीक्षण ओपीडी में चिकित्सकों की अनुपस्थिति पर जताई नाराजगी.माननीय सदस्या ने तहसील उतरौला सभागार में आयोजित पोषण पंचायत का दीप प्रज्वलित कर किया शुभारंभ, 06 माह के बच्चों का कराया अन्नप्राशन, महिलाओं को सुपोषण के प्रति किया जागरूक *माननीय सदस्या ने महिला उत्पीड़न से संबंधित प्रकरणों का किया जनसुनवाई, तत्काल कार्यवाही का दिया निर्देश दिनांक-15 सितंबर 2021
जनपद बलरामपुर के एक दिवसीय भ्रमण के दौरान माननीय सदस्या उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग श्रीमती सुनीता बंसल द्वारा संयुक्त जिला चिकित्सालय का निरीक्षण किया गया। इस दौरान चिकित्सकों का ओपीडी में उपस्थित न मिलने पर माननीय सदस्या द्वारा नाराजगी जताई गई एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सुशील कुमार को सभी चिकित्सकों की समय से ओपीडी में उपस्थित सुनिश्चित किए जाने तथा मरीजों को चिकित्सीय परामर्श दिए जाने का निर्देश दिया गया। माननीय सदस्या द्वारा उपस्थिति पंजिका एवं शिकायत पंजिका का निरीक्षण किया गया। शिकायत पंजिका में बाहर से दवा व जाॅच बाहर से लिखे जाने, अवैध वसूली, की शिकायतों पर की गई कार्वायही की जानकारी ली। उन्होंने मुख्य अधीक्षक को जिला संयुक्त चिकित्सालय को सभी कमियों को दूर करते हुए मरीजों को बेहतर चिकित्सा सुविधा प्रदान किए जाने का निर्देश दिया। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को अस्पताल में आने वाले मरीजों को समय से देखे जाने, प्रसूताओ को बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराए जाने का निर्देश दिया। इसके उपरांत माननीय सदस्या द्वारा तहसील उतरौला सभागार में आयोजित पोषण पंचायत कार्यक्रम का फीता काटकर व दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ किया गया। माननीय सदस्या द्वारा लोगों को पोषण शपथ दिलाई गई तथा गर्भवती महिलाओं की गोद भराई, 6 माह के बच्चों का अन्नप्राशन तथा कुपोषण से मुक्त हुए बच्चों को पुष्टाहार प्रदान किया गया। पोषण पंचायत में माननीय सदस्या द्वारा कुपोषित बच्चों, महिलाओं को पुष्टाहार विभाग द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई। उन्होंने कहा कि महिलाओं एवं बच्चों में कुपोषण एक गंभीर समस्या है जिसके सुधार के लिए बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग, स्वास्थ्य विभाग एवं अन्य विभागों द्वारा विविध कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं,कुपोषण को दूर करने के लिए भारत सरकार तथा प्रदेश सरकार द्वारा संयुक्त रूप से पोषण माह का आयोजन किया जा रहा। कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि लड़कियां किसी भी क्षेत्र में लड़कों से पीछे नहीं है, जरूरत इस बात की है कि बिना भेदभाव के लड़कियों को भी समान अवसर मिले। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार बेटियों एवं महिलाओं के उत्थान हेतु प्रतिबद्ध है । प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं के स्वावलंबन, सशक्तिकरण, सुरक्षा के लिए विभिन्न योजनाओं का संचालन किया जा रहा है ।महिलाओं एवं बेटियों को स्वावलंबी और सुरक्षा के लिए जागरूक करने के लिए मिशन शक्ति अभियान चलाया जा रहा है। मिशन शक्ति अभियान के तहत महिला कल्याण विभाग एवं पुलिस विभाग द्वारा गांव-गांव जाकर महिलाओं को जागरूक किया जा रहा है।
माननीय सदस्या ने कहा कि प्रत्येक थानों में महिला हेल्प डेस्क की स्थापना की गई है जहां पर कोई भी महिला बालिका अपनी शिकायत दर्ज करा सकती है। इसके साथ ही साथ विभिन्न सेवाएं जैसे 1090 (वूमेन पावर लाइन), 181 (महिला हेल्पलाइन), 108 (एंबुलेंस सेवा), 1076 (मुख्यमंत्री हेल्पलाइन),112 पु(लिस आपातकालीन सेवा),1098 (चाइल्ड लाइन), 102 (स्वास्थ्य सेवा हेल्पलाइन) नंबर के माध्यम से कोई भी समस्या या शिकायत दर्ज कराया जा सकता है। इस अवसर पर उप जिलाधिकारी उतरौला डॉ नागेंद्र नाथ यादव, जिला कार्यक्रम अधिकारी राजेंद्र कुमार, सीडीपीओ सत्येंद्र सिंह, अपर सीएमओ द्वारा महिला कल्याण के लिए संचालित योजनाओं की जानकारी उपस्थित आम जनमानस को दी गई।
इस दौरान जिला प्रोबेशन अधिकारी सतीश चंद्र,तहसीलदार उतरौला, धात्री महिलाएं, आंगनबाड़ी कार्यकत्री व अन्य संबंधित अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे। तदोपरांत माननीय सदस्या द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार में महिला उत्पीड़न से संबंधित मामलों की जनसुनवाई की गई। जन सुनवाई के दौरान माननीय सदस्या द्वारा पीड़ित महिलाओं की समस्या/ शिकायतों को ध्यानपूर्वक सुना गया तथा त्वरित कार्यवाही का आश्वासन दिया गया। माननीय सदस्या ने कहा कि महिलाओं के साथ मारपीट, घरेलू हिंसा, दहेज संबंधी मामलों में तत्काल कार्यवाही की जाए। महिला एवं बाल कल्याण के लिए चलाई जा रही योजनाओं का लाभ पात्र महिलाओं को प्राथमिकता के साथ दिया जाए, यह संबंधित अधिकारियों द्वारा सुनिश्चित किया जाए। इस दौरान महिला उत्पीड़न से संबंधित 11 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए माननीय सदस्य द्वारा सभी प्रार्थना पत्रों पर तत्काल कार्रवाई करते हुए समयबद्ध एवं गुणवत्ता पूर्ण ढंग से निस्तारण का निर्देश दिया गया। इस दौरान अपर उपजिलाधिकारी विनोद कुमार सिंह, महिला कल्याण अधिकारी रागनी मिश्रा, सीओ सिटी वरुण कुमार मिश्र, महिला थानाध्यक्ष, अन्य संबंधित अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे। तहलका न्यूज़ के लिए मिठ्ठू शाह की रिपोर्ट TAHALKANEWS OFFICE CON NO 9198041777

Leave a Reply

%d bloggers like this: