तहलका न्यूज़ के खबर का हुआ असर लखनऊ के मोहनलाल गंज के गौ आश्रय केंद्र का मुख्य विकास अधिकारी ने निरीक्षण कर लापरवाही बरतने वालों को दी कड़ी चेतावनी

तहलका न्यूज़ के खबर का हुआ असर। अभी 4 दिन पहले तहलका न्यूज़ के रिपोर्टर ने मोहनलाल गंज के गौ आश्रय केंद्र की दूर दशा को लेकर कवरेज किया था। उस खबर को देखकर प्रशासन ने मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच पड़ताल शुरू कर दी। आप सभी को बताते चलें कि मुख्य विकास अधिकारी लखनऊ द्वारा किया गया जबरौली गांव का अस्थाई गोवंश आश्रय का निरीक्षण खामियाजा चुकाना पड़ेगा कर्मचारियों को÷मु• वि•अ• अश्वनी कुमार। लखनऊ मोहनलालगंज जहां सरकार द्वारा हर गांव कस्बे में गौआश्रय केंद्र खुलवाए जा रहे हैं तो वही कुछ आश्चर्य केंद्रों का बुरा हाल देखने को मिल रहा है।तो वहीं कुछ गौआश्रय केंद्र सुर्खियों में छाए पड़े हुऐ है,अपने कार्यशैली की वजह से!ऐसा ही नजारा मुख्य विकास अधिकारी अश्वनी कुमार को मोहनलालगंज विकासखंड के जबरौली गांव में देखने को मिला जहां अश्वनी कुमार द्वारा गौआश्रय केंद्र का निरीक्षण करने के पश्चात गौ आश्रय केंद्र की प्रशंसा की और कहा कि ऐसी व्यवस्था हर गौ आश्रय केंद्र पर होनी चाहिए,जहां पर हर एक व्यवस्था सुनिश्चित है।आपको बता दें कि इसी बीच मुख्य विकास अधिकारी महोदय लखनऊ द्वारा अस्थाई गोवंश आश्रय स्थल जबरौली विकासखंड मोहनलालगंज का निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय 365 गोवंश थे तथा गोवंश आश्रय स्थल पर मिट्टी की पटाई कराने के निर्देश दिए गए। ताकि वर्षा के समय जलभराव की स्थिति ना उत्पन्न हो गौ स्थल में लगे गो कास्ट मशीन से बने गोबर के कन्डो का प्रचार प्रसार कर के बिक्री बढ़ाई जाए। जिससे गौशाला को आत्मनिर्भर बनाया जाए।तहसील दिवस के पश्चात मुख्य विकास अधिकारी महोदय द्वारा विकास खंड कार्यालय के विभिन्न पटलो का निरीक्षण किया [एन•आर• एल• एम°] पटल के निरीक्षण के दौरान उपस्थित ब्लॉक मिशन प्रबंधकों को स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को अधिक से अधिक प्रशिक्षण कराकर रोजगार दिलाए जाने के भी निर्देश दिए गए। इसके उपरांत रेन वाटर हार्वेस्टिंग में तैयार किए गए,सोकपिंट का निरीक्षण भी किया गया।साथ ही अवर अभियंता {आर •ई •डी•} को निर्देश दिए गए कि केचमेंट एरिया का आकलन करें और प्रतिवर्ष वर्षा ऋतु में कितना वाटर रिशौर्ज होगा,इसकी भी गढना की जाए। इसके उपरांत मनरेगा कच्छ का निरीक्षण किया तथा क्षेत्र पंचायत के ग्रांट रजिस्टर पार्ट 1,2,3 तथा समस्त शिकायत रजिस्टरो का अवलोकन किया गया। साथ ही निर्देश दिए गए,कि समस्त साथियों की तैनाती ग्राम पंचायत में किस तिथि से है इसका विवरण 1 सप्ताह में तैयार किया जाए! निरीक्षण के समय परियोजना निदेशक जिला ग्राम्य विकास अधिकरण लखनऊ,उपायुक्त श्रम रोजगार लखनऊ,उपायुक्त स्वत: रोजगार लखनऊ तथा खंड विकास अधिकारी अजीत कुमार सिंह एडीओ पंचायत अशोक कुमार यादव ग्राम विकास अधिकारी डी पी सिंह उपस्थित रहे। तथा मुख्य विकास अधिकारी द्वारा रखरखाव के कड़े निर्देश दिए गए। तहलका न्यूज़ के लिए लखनऊ के मोहन लाल गंज से धीरज तिवारी की रिपोर्ट TAHALKANEWS OFFICE CON NO 9198041777♦

Leave a Reply

%d bloggers like this: