रामनगरी अयोध्या का जिला अस्पताल बना दलालों का अड्डा मरीजों से की जा रही है अवैध वसूली

राम नगरी अयोध्या के अस्पताल में गिद्धों की तरह मडरा रहे 6 दर्जन से अधिक दलाल दलालों के चलते सारी व्यवस्था चरमरायी।
अयोध्या। जिला चिकित्सालय में चिकित्सक की कमी का हवाला देकर लगातार करोड़ों की लागत से बने जिला अस्पताल के विभिन्न जांच वाले विभागो मे मरीजो से वसूली की घिनौनी वारदाते बढती जा रही है. जिला अस्पताल मे हर समय 50 से अधिक महिला व पुरूष दलालो का जमावडा इस बात को बल देता है है कि जिले के आला अफसरों व जनप्रतिनिधियों का उन्हे कोई खौफ नही है । अयोध्या जनपद में फैजाबाद में स्थित जिला अस्पताल को लाखों-करोड़ों रुपए खर्च करके बनाया गया हर सुविधा मुहैया कराया गया यहां तक कि यहां ऑक्सीजन प्लांट में करोड़ों रुपया खर्च किया गया ताकि लोगों की जान बच सके जिला अस्पताल में बिजली के लिए लाखों रुपए खर्च करके जनरेटर लगाया गया ताकि बिजली की कमी न हो हर सुविधा मौजूद है जिला अस्पताल में लेकिन कमी है तो सिर्फ सिस्टम की कभी यहां डॉक्टर मौजूद नहीं रहते तो कभी बिजली नहीं रहती ए घटना लगातार आए दिन बनी रहती है आपको बता दें कि जिला अस्पताल में आज दिन बुधवार 12:00 बजे किसी कारण से बिजली गुल हो गई सैकड़ों मरीज परेशान हो रहे थे इमरजेंसी मरीजों का जांच करने के लिए भी बिजली पर्याप्त नहीं थी।अस्पताल मे विजली चले जाने पर जनरेटर संचालित करने वालो की हठधर्मिता व हजारो के डीजल चोरी के खेल को लेकर भी पूर्व मे खबर प्रकाश मे आयी थी लेकिन मामला रफा दफा कर दिया गया.जब मीडिया की टीम मुख्य चिकित्सा अधिकारी से बात करनी चाही तो उनसे बात नहीं हो पाई अब ये देखना है कि शासन प्रशासन इस घटना को लेकर कर्मचारियों और अधिकारियों पर क्या कार्रवाई करती है । जवकि एक्सरे, खून व एम आर आई सहित अन्य जाच से जुड़े विभागो पर दलालो की भीड का संज्ञान नही लिया गया तो भगवान ही यहा जान बचा सकते है।।
इससे भी बुरा हाल बीकापुर में संचालित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बीकापुर का है जहां पर ना तो मरीजों के लिए कोई सुविधाएं हैं। सबसे खास बात तो यह है की यही बताया जाता है कि हमारे यहां यही सुविधा है जबकि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र होने के नाते लगभग सारी सुविधाएं बीकापुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मौजूद है इस समय वर्तमान में अधीक्षक अवधेश प्रताप सिंह ने चार्ज ग्रहण कर लिया है देखना है कि स्थिति में सुधार होता कैसे है क्या मरीजों को इसी तरह भागदौड़ करना पड़ेगा क्या कोई अच्छा सा डॉक्टर आएगा जो मरीजों को ठीक कर सके हमेशा डिफर करने के बजाए सीएससी बीकापुर से भी रेफर किए जाएंगे मरीज इन सारी समस्याओं को झेलते हुए नवागत सीएससी अधीक्षक को मामले को सुलझाने का तथा व्यवस्था उपलब्ध कराने का जिम्मा सौंपा गया है। तहलका न्यूज़ के लिए अयोध्या से खालिद रशीद की खास रिपोर्ट। TAHALKANEWS OFFICE CON CALL 9198041777

Leave a Reply

%d bloggers like this: