देवीपाटन मंडल के 18 सीटें जीत कर राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से किया वादा पूरा करूं गा पूर्व सांसद रिज़वान ज़हीर

देवीपाटन मंडल की 18 सीटें जीतकर राष्ट्रीय अध्यक्ष से किया वादा करूँगा पूरा : रिज़वान ज़हीर
सामंतवादी ताकतों को हराना ही मेरा अंतिम लक्ष्य : रिज़वान ज़हीर. भाजपा की नीतियों के कारण देश खतरे में, इसे अब हटाना जरूरी : रिज़वान ज़हीर हाल ही में बहुजन समाज पार्टी से अलग होकर समाजवादी पार्टी में शामिल होने के बाद पूर्वांचल के कद्दावर नेताओं में से एक रिज़वान ज़हीर गुरुवार को अपने गृह जनपद बलरामपुर पहुंचे। पूर्व सांसद और उनकी बेटी ज़ेबा रिज़वान का हजारों समर्थकों ने जिले में कई स्थानों पर उनका भव्य स्वागत किया गया। पूर्व सांसद रिज़वान ज़हीर, उनकी बेटी ज़ेबा रिज़वान और उनके सैकड़ों समर्थकों ने एक अक्टूबर को बसपा की सदस्यता छोड़कर सपा में शामिल हो गए। उन्हें सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने सदस्यता दिलवाई। 17 साल बाद एक बार फिर साइकिल की सवारी करने वाले रिज़वान ज़हीर और अपने समर्थकों के साथ अपने गृह जनपद पहुंचे। पूरे रास्ते, कई स्थानों पर उनके समर्थकों ने ज़हीर का भव्य स्वागत किया। बलरामपुर में उन्होंने और ज़ेबा रिज़वान ने चंद्रशेखर आज़ाद की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि मैं समाजवादी पार्टी का संस्थापक सदस्य रहा हूँ। राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एक बार फिर मुझमें विश्वास जताया है और पार्टी की दिलाई है। मेरी कोशिश होगी कि इस क्षेत्र की सभी सीटें जीतकर सपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनवाऊंगा।
इस दौरान उन्होंने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि सामंतवादी ताकतें आज पैर पसार रही है। सामंतवादी तत्वों की वजह से आज देश का संविधान और देश खतरे में है। इसे बचाने के लिए मैंने जो लड़ाई शुरू की थी, वह आगे भी जारी रखूंगा। समाजवादी पार्टी में हीं वह ताकत है, जिसके जरिए इन सामंतवादी लोगों को हराया जा सकता है। मेरा लक्ष्य है कि मैं भाजपा को जड़ से खत्म करूँ। रिजवान जहीर ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार है जब जब आती है तब तब मेरे ऊपर मुकदमे लिखे जाते हैं। मुझे अपराधी बताया जाता है। जबकि मेरे ऊपर उतरौला कोतवाली में केवल एक मुकदमा चल रहा है। वह भी आमरण अनशन करने का मुकदमा है। इसके अलावा कोई मुकदमा नहीं चल रहा है। मैं ना तो अपराधी हूं। ना ही मैंने किसी के साथ कुछ गलत किया है। 35 साल के राजनीतिक जीवन में मैंने कभी किसी को परेशान नहीं किया। फिर भी यह सरकार मुकदमे लिखवाती है। इस प्रकार की मानसिकता में शामिल है कि जो लोग जनता का साथ दें। उन्हें परेशान किया जाए।
रिजवान जहीर ने कहा कि मेरे सपा में घर वापसी से अन्य राजनीतिक दलों में खलबली मची हुई है। वो लोग उल्लू जुलुलू बयान दे रहे हैं। यह कहीं ना कहीं मेरे व्यक्तित्व और मेरे राजनीतिक सफर का ही नतीजा है कि वह लोग परेशान हैं, जिन्होंने जनता को परेशान करने का काम किया है। आगामी विधानसभा चुनावों में राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव मुझे जो भी जिम्मेदारी देंगे। उसे निभाते हुए मैं समाजवादी पार्टी को आगे बढ़ाने और लोगों की आवाज बनने का काम करूंगा। मेरी कोशिश होगी कि मैं देवीपाटन मंडल सहित आसपास के क्षेत्रों की तमाम विधानसभा सीटें जितवाकर ले जाऊं।
तुलसीपुर विधानसभा सीट और अपनी बेटी के राजनीतिक कैरियर के बारे में बात करते हुए रिजवान ने कहा कि हम लोग अब कहीं ना कहीं इस पेशे में आगे निकल चुके हैं। यह नौजवानों का समय है और नौजवानों को आगे करना, मेरा लक्ष्य होगा। तुलसीपुर विधानसभा सीट से जिसे भी टिकट दिया जाता है। उसके जीतने के लिए पूरी समाजवादी पार्टी जी जान लगा देगी। फिर वह चाहे जेबा रिजवान हो या पार्टी का कोई कार्यकर्ता। तहलका न्यूज़ के लिए मिट्ठू शाह की रिपोर्ट TAHALKANEWS OFFICE CON CALL NO 9198041777 

Leave a Reply

%d bloggers like this: