अखिलेश यादव पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ यूपी 2022 विधान सभा का चुनाव साथ लडने की तैयारी में हैं

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश 2022 का विधान सभा चुनाव पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के साथ मिल कर लड़ने की तैयारी में हैं. ऐसी खबर है कि इस बात को लेकर दोनों में बात बन गई है. समाजवादी पार्टी यूपी चुनाव में टीएमसी के लिए कुछ सीटें छोड़ सकती हैं. इसी कड़ी में ललितेशपति त्रिपाठी आज टीएमसी में शामिल हो गए हैं. अब तक मिली जानकारी के मुताबिक़ अखिलेश यादव टीएमसी को दो सीटें दे सकते हैं. यूपी कांग्रेस के उपाध्यक्ष रहे पूर्व विधायक ललितेशपति त्रिपाठी आज सिलीगुड़ी में ममता बनर्जी से मिले. उनके साथ ममता के भतीजे और टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी भी थे. दोनों के सामने ही ललितेश और उनके पिता राजेशपति त्रिपाठी टीएमसी में शामिल हो गए. राजेशपति के दादा कमलापति त्रिपाठी यूपी के मुख्यमंत्री थे. यूपी की राजनीति में त्रिपाठी परिवार का सालों तक दबदबा रहा है. ललितेश ने पिछले ही महीने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफ़ा दे दिया था. पार्टी छोड़ने के बाद उन्होंने कहा था कि वे कांग्रेस से मिलती विचारधारा वाली पार्टी में ही रहेंगे. उनको लेकर तरह तरह की अटकलें लगाई जा रही थीं. कहा जा रहा है कि वे टीएमसी के टिकट पर मिर्ज़ापुर से चुनाव लड़ सकते हैं. समाजवादी पार्टी उनका समर्थन करेगी. ललितेश के पिता राजेशपति एमएलसी रहे हैं.
अखिलेश यादव कई बार कह चुके हैं कि बीएसपी और कांग्रेस से उनका गठबंधन का अनुभव ख़राब रहा है. लेकिन छोटी छोटी पार्टियों के साथ वे चुनावी तालमेल कर रहे हैं. राष्ट्रीय राजनीति में अपनी लकीर लंबी करने के लिए अखिलेश ने दो चार सीटें ममता बनर्जी और शरद पवार की पार्टी के लिए छोड़ने का फ़ैसला किया है. तहलका न्यूज़ डेस्क

Leave a Reply

%d bloggers like this: