अयोध्या में दो पुलिस अधिकारियों व पूर्व मंगेतर के उत्पीड़न से तंग आकर महिला बैंक अधिकारी ने लगाई फांसी

मृतिक की फाइल फोटो
खालिद रशीद रिपोर्टर अयोध्या फैजबाद

अयोध्या शहर के फैजाबाद में एक महिला बैंक कर्मी ने किया सुसाइड आप सभी को बताते चलें कि 30 वर्षीय श्रद्धा गुप्ता शहर के मोहल्ला खवासपुरा में एक किराए के मकान पर रह रही थी पुलिस को एक मम्मी के नाम लिखा लिखा हुआ सुसाइड नोट मिला है जिसमें एक पूर्व आईपीएस अधिकारी सहित तीन लोगों को आत्महत्या का जिम्मेदार ठहराया है पुलिस ने सुसाइड नोट को सुरक्षित कर लिया है। मृतिका लखनऊ राजाजीपुरम की निवासी थीं रामजी गुप्ता की पुत्री हैं अयोध्या के शहर फैजाबाद में पंजाब नेशनल बैंक क्षेत्रीय कार्यालय में स्केल वन की अफसर थी जानकारी होने पर एसएसपी शैलेंद्र पांडे पहुंचे घटना स्थल पर वहां उन्हें कमरा अंदर से बंद मिला खिड़की तोड़कर उसकी लाश बाहर निकाली गई परिजनों ने मामले की जानकारी सीएम से न्याय की गुहार लगाई है वही मौके पर पुलिस ने पापा मम्मी को संबोधित अंग्रेजी में लिखा एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है जिसमें लिखा है कि राजेश विवेक गुप्ता अनिल रावत पुलिस फैजाबाद व आशीष तिवारी( एसएसएस हैंड लखनऊ) अपनी मौतका जिम्मेदार ठहराया है इसमें आशीष तिवारी पूर्व मेंअयोध्या जनपद के एसएसपी रह चुके हैं एसएसपी अयोध्या जनपद के शैलेंद्र पांडे ने घटना का जायजा लिया जानकारी के अनुसार मृतक की शादी राजेश गुप्ता नामक युवक से दोनों की सगाई भी हो चुकी थी लेकिन बाद में किसी कारण यह शादी टूट गई इसको लेकर अब अवसाद में रहती थी वहीं पुलिस के अनुसार दोनों की शादी टूटने के बाद कोई शिकायत पुलिस तक नहीं पहुंची थी सुसाइड नोट में आईपीएस आशीष तिवारी के साथ पुलिस विभाग में कार्य अनिल रावत व युवक विवेक गुप्ता का भी नाम लिखा है बता दें कि युवती ने विवेक गुप्ता अनिल ड्राइवर आईपीएस आशीष तिवारी को मौत का जिम्मेदार ठहराया है आईपीएस आशीष तिवारी अयोध्या जिले के एसएसपी रह चुके हैं पुलिस जांच करके आगे की कार्रवाई जुट गई है। तहलका न्यूज़ के लिए खालिद रशीद की रिपोर्ट TAHALKANEWS OFFICE CON NO 9198041777

Leave a Reply

%d bloggers like this: